खिलौना स्टोर बिज़नेस कैसे खोले How to Start Toys Store

Table of Contents

भारत में एक खिलौना स्टोर व्यवसाय कैसे खोले।

खिलोना का बिज़नेस कैसे करे, ( khilona ka business kaise kare ) छोटे बच्चे को कलरफुल खिलौना जैसा कुछ भी दूसरी ऐसी चीज नहीं है। जो की छोटे बच्चे क के चेहरे पर एक अछि मुस्कान ला सकती है।

अब इसमें बच्चे का जन्मदिन, ओर खुशी या कोनसा भी दिन, जो कि एक खिलौना हमेशा बच्चे को सबसे अच्छा तोफा होता है। जो कि गिफ्ट देने के लिए या कुछ भी! आज के दौर मे मार्केट मैं कहीं भी एक खिलौना की आछि दुकान की जिसमे सब खिलोने की चीजें होगी। ऐसा बिज़नेस स्थापित करना एक अच्छा अवसर हो। ओर इसमे आपको बहुत लाभदायक हो जाएगा ।  क्योंकि हर एक जगह आपको बच्चे दिखेंगे। ओर हर एक जगह बचे होते है। 

   अगर तुम अच्छा पैसा कमाना चाहते हो। और बचों के खुश चेहरे देखना पसंद करते हो। तो आपको यह बिज़नेस एक सही जगह हो सकती है।  हम भारत में एक नया खिलौना  स्टोर कैसे शुरवात कर सकते ये देखेंगे। और आपको खिलौना स्टोर व्यवसाय शुरू करने के लिए। कोनसी योजना ओर सभी स्टेप्स के माध्यम से हम एक अच्छा मार्गदर्शन करने वाले है। जो कि आपको बहुत हेल्प त।

खिलौना स्टोर बिज़नेस कैसे खोले

पहले स्टेप्स मैं आप अपने खिलौने की दुकान व्यापार के लिए एक आच्छा प्यारा नाम कैसे चयन करें ?

 

 जो आप एक Brand नाम चयन करेंगे। जो कि ओ आपको पहले चुनना जरूरी होगा।  यह नाम बोलने मैं प्यारा और सुनने मैं मस्त होना जरूरी है। जो कि एक आपका brand होगा।  किसी भी नाम का चयन करने का एक गलत प्रक्रिया का आपको नुकसान हो सकता है।  जब भी लोग किसी भी नाम के बारे में सोचते लगते हैं। तो सबके दिमाग में हज़ारों बहुत सारे नाम तुरंत ही दिमाग मैं खिल जाते रहते हैं।

   जो भी आपको सबसे अच्छा नाम आपको पसंद होगा। ओ आप चुन सकते हो जो कि कोही भी हो।  आप एक पेन और एक कागज की शीट ले लो। और उसके बाद जो भी कुछ भी आपके मन में जो भी विचार आएँगे ओ सब अपने कागज मैं लिखें।  अब, दो नही तो तीन शब्दों को मिलाएँ और उसमे से आपके लिए एक आछा नाम ढूंढे।  एक सिंपल फ़ॉन्ट शैली वाला नाम चुनें। 

ये भी आर्टिकल जरूर पढ़ें
1Travel Business Ideas for travel lover ( hindi ) ट्रॅव्हलिंग business आयडिया
243 Automobile Business ideas ( Hindi ) वाहन व्यवसाय
3Computer Business ideas | कंप्यूटर व्यापार आयडिय
4Tips of Start a new business | एक नया व्यवसाय शुरू करने के नियम ( Hindi )
520 Health related business ideas | स्वास्थ्य संबंधी व्यावसाय ( Hindi )
6Eco Business ideas in hindi | ईको-फ्रेंडली बिज़नेस आइडियाज
7Education business ideas in Hindi | शिक्षा व्यवसाय के अवसरों को पढ़
8Construction Business Ideas In Hindi | बिल्डर व्यवसाय
9Financial business ideas | वित्तीय व्यापार कारोबार ( Hindi )

खिलौना स्टोर के बारे मे  और अपने कॉम्पिटीटर स्टोर को ढूंढे.

 

 आज भारत मैं खिलौना उद्योग एक तेजी से डेवलोपमेन्ट हो रहा है।  जो कि भारत मे लगभग हर दिन नए डिज़ाइन और नए खिलौने के साथ कंपनियाँ आती हैं।  भारत मे हम सभी जानते हैं कि यदि मार्केट मैं कोई नई टेक्नोलॉजी उपलब्ध हो तो जो कि ओल्ड  खिलौना फैशन बंद हो जाता है नही तो कम लोग ख़रीदते है। और ओ मार्केट से बाहर हो जाता है। इसलिए आपको खिलोने के नए फ़ैशन से जुड़े ओर बहुत सावधान रहने की जरूरत है।

 

आप  यह देखें कि ट्रेडिंग मैं बच्चे की क्या मांग करते हैं।  उसका एक डेटा शीट बनाएं और खोज करें कि कितने उम्र के बच्चे सबसे अधिक कोनसे खिलोनो की मांग कर रहे हैं।

ओर क्या चाहते हैं।  ऐसा करने के आपको अपने स्टोर के लिए एक अच्छा कुछ महीनों एक्सपीरियंस आएगा और आप न केवल अपने स्टोर की मांगों के बारे में, बल्कि विपणन, मार्किट और मैनेजमेंट पर भी एक अच्छा अनुभव प्राप्त कर सकते हैं। वास्तविक मैं आप अपने व्यवसाय को कभी नहीं बढ़ा सकते हैं जबकि आपको पता नहीं है कि आपके कॉम्पिटीटर मार्केट मैं क्या कर रहे हैं।  आप जो खिलोने स्टोर वाली दुकानों में काम करके या नही तो आप उनसे पूछ कर इसका सुराग पा सकते हैं।

 

 अपने बिज़नेस को पंजीकरण ओर लाइसेंस

आप खिलौने की दुकान खोलने के लिए पहिले आवश्यक जरूरी परमिट के बारे में एक कानूनी सलाहकार से बात करे। ज्यादातर आप आपकी दुकान के लिए दुकान और दुकान स्टार्ट करने का लाइसेंस की आवश्यकता हो सकती है।

  इसके अलावा, आपको उन Brand के उचित प्राधिकरण की आवश्यकता हो सकती है जो कि ओ प्रोडक्ट आप प्रचार कर रहे हैं और ओ प्रोडक्ट आप सेल कर रहे हो।  फिर भी, ओर भी यदि कोई अलग से कोही अनुमति की आवश्यकता है तो ओ भी ले सकते हो। क्योंकि  आपको एक आछा और कोई सबी कानूनी प्रक्रिया पूरा करके व्यवसाय शुरू करना चाहिए।  क्योंकि बाद मैं कोई मुसीबत ना पड़े।

 

 खिलौना के मटेरियल डिस्ट्रीब्यूटर को  ढूढ़े

 जब पहले से आप एक खिलौने की दुकान में काम कर रहे हो। तो आपको डिस्ट्रीब्यूटर को आसानी से संपर्क  प्राप्त        

कर सकते है।  और आप यदि आप दुकान पर काम नही करते कोई मालूम नही है डिस्ट्रीब्यूटर तो आप इंटरनेट पर सर्च कर ते हो तो आपको जरूर मिलेगा, brand नाम डाल के सर्च कर सकते हो आपके सामने डिस्ट्रीब्यूटर की पूरी सूची तुरंत सामने आएगी। 

 उन्ह लोगो का कॉल नबर भी दिया हुए होता है। तो आप उसे कॉल करें और उनकी खलौने का दर पूछे और वे कौन-कोन से brand बेचते हैं।  जब आप रेट पूछेंगे तब आपको थोड़ा बहुत पता चलेगा कि आपको स्टार्टअप के लिए कितने पैसे की आवश्यकता हो सकती है।

 

 एक अलग सा उत्पादक का पता लगाए

 आजकल तो बाजार में लाखों खिलौने उपलब्ध होते है। लेकिन उसमे कुछ ऐसे ही हैं जो हर बच्चे को ज्यादा पसंद आते हैं।  उस डिस्ट्रीब्यूटर का आप पता लगाएँ, और उसके प्रोवाइडर करने वाले प्रोडक्ट  के माध्यम से जाना।  

 

यदि आपको संभव हो तो पता करें कि क्या मैं खरीद रहे सब खिलौने अन्य दुकानों में उपलब्ध हैं या नहीं।  यदि वे खिलोने उस दुकान मैं नहीं, तो वे उत्पाद आपके टार्गेटेड बाजार हो सकता है।

  उदाहरण के लिए, आप के स्टोर के लिए आप विशेष रूप से टॉडलर्स के लिए आपके स्टोर मैं खिलौने बिक्री करेंगे, इन खिलौनों को आपको कठोर  नियमों का पालन करना  जरूरी हो सकता है, 

और ज़्यादातर दुकानें उनकी कीमत और परमिट के कारण उनसे प्रोडक्ट लेकर बेचते हैं। 

 आप नए brand का भी सेल कर सकते हो। लेकिन इसके लिए आपको ज्यादा नाम होने की आवश्यकता हो सकती है।  आपके क्षेत्र में एक लोकप्रिय brand ओर विक्रेता होने के नाते एक आपको नया जैकपॉट खोजने जैसा है, क्योंकि वे सब उत्पाद केवल आपकी ही दुकान में उपलब्ध हो सकते है।

 

 आपके स्टोर के लिए एक स्थान चुनें

 अपनी स्टोर के लिए एक अच्छा स्थान चुनना आपके व्यवसाय की सफलता के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण हो सकता है।

आपकी रणनीति ये होनी चाहिये।  अपने समाज का अनुकरण करें, उस जगह आप स्टोर स्थापित करें जहां ज्यादातर बच्चे रहते हैं।

आपके स्टोर के लिए  सबसे अच्छी जगह स्कूलों नही तो बच्चों के पार्क या किसी भी ओर क्षेत्र के पास होती है, जहाँ बचो का खिलोनो का बाजार होता हैं।  एक ज्यादा व्यस्त क्षेत्र में अच्छी सड़क के सामने स्टोर ओपन करना ये भी आछा फायदा हो सकता है। 

 

आपके स्टोर के लिए उपकरण और फर्नीचर सूची आपको चाहिए.

 टॉयज रखने के लिए फर्निचर

 आपकी दुकान में बच्चों के लिए ओर आपको काम करने ओर बचो के लिए भागने के लिए अछि पर्याप्त जगह होनी चाहिए। अपने कस्टमर वे आखिर बच्चे हैं।

 आपके स्टोर मैं  जरूरी उपकरणों और  स्टोर के लिए फर्नीचर की एक सूची बनाई है जिनकी आपको इस टॉयज स्टोर स्टार्ट-अप के लिए आवश्यकता होगी।

 

 स्टोर के दीवार मैं लगाने के रैक और अलमारियां- जो आपको हमेशा स्टील मे मिलेगी लेकिन आप उसे लकड़ी से भी बना सकेंगे। लकड़ी का रैक सुरक्षित हो सकता है।  आप प्लास्टिक फाइबर अलमारियों को भी आप अपने स्टोर मैं यूज़ कर सकते हो। क्योंकि वे अलग-अलग रंगों में आते हैं। 

आपके बजट अनुसार चुने। रैक यह एक जगह है जहाँ आप अपने टॉयज उत्पादों का प्रदर्शन करेंगे।

ओर आपके स्टोर मैं एक बिलिंग डेस्क जहां की 

आप अपने कंप्यूटर और बिलिंग मशीन को रखेंगे।

 

 बच्चों और उनके पैरेंट को बैठने के लिए अलग-अलग आकारों की कुर्सियाँ रखो।

आपके स्टोर मैं गर्मी के दिनों में एयर कंडीशनर भी लगा सकते है। जो कि आप अवश्यकय होगा तो लगा सकते है।

खिलौना उत्पादों की सूची आप अपने स्टोर में जोड़ सकते हैं।

 

खिलौने सजावट

     अपनी दुकान में उत्पादों को ठीक से खिलोनो की सजावटी अछि तरह से करें।  

अपनी स्टोर की अलमारियों को अलग-अलग उम्र के बच्चों के लिए उचित वर्गों में अलग-अलग विभाजित करें।  अपने स्टोर की  अलमारियों को अलग-अलग से रंगों ओर पेंट करें, जिन्हें पहचानना बहुत आसान हो जाएगा।

 

 लड़कों को सभी एलेक्ट्रोनॉनिक और विभिन्न brand के खिलौना कारों के साथ लड़के को पुरी अलमारियों भरना पसंद होता है।  वे रोबोट, वीडियो गेम और भी बहुत अधिक से एलेक्ट्रोनॉनिक खिलौने से बहुत शौकीन होते है।

  आप अपनी दुकान में ही एक नया PlayStation स्थापित कर सकते हैं,  और हाल ही में लॉन्च किए गए कंपनी के खिलोनो को परीक्षणों की प्लेस्टेशन मैं पेशकश कर सकते हैं। भारत मे  हर उम्र के लड़के वीडियो गेम खेलते हैं।  यह आपका मार्केट मैं आने वाले प्रोडक्ट का बाजार भी हो सकता है।

 लड़कियों को ज़्यादातर गुड़िया टेडी बेयर खिलौने पसंद हैं।  आप सभी आकारों के गुड़िया, टेडी बेयर का एक विस्तृत से खंड रख सकते हैं।

खिलौने सजावट

 आप छोटे शिशुओं के लिए, मैं तो कहूँगा कि आपके द्वारा चुने गए उत्पादों ओर कंपनियाँ के बारे में बहुत सावधान रहना होना चाहिये।  उन सभी प्रोडक्ट को सुरक्षा ओर सेफ्टी का पालन करना चाहिए।

 

 मैं आपको केवल अच्छे और उत्तम brand रूप से स्वीकृत को बेचने का सुझाव देता हूं।  कुछ भी सस्ता ओर हानिकारक मत बेचो।  

 

और उस हर खिलौने को सुरक्षा मानकों का पालन करना बहुत ज़रूरी है।

 

  उनमें कोई हानि करने वाला घटक नहीं होना चाहिए, यह एक शिशु या बड़े बचो के लिए होना जरूरी है, जो कि  सस्ते प्रोडक्ट को ज्यादातर सस्ते घटकों से बनाया जाता है, और उनपर जो कि पेंट होता है ऒ उसमे कभी-कभी पेंट एनर्जी का कारण बन सकता है।

इसलिए सस्ते उत्पादों को ज्यादातर कम कीमत पर बेचने की तुलना में हमेशा अच्छे क्वालिटी उत्पादों को थोड़ा अधिक मूल्य पर बेचना बेहतर  कभी भी आछा होता है।

 

अपने स्टोर के सामने और अंदर ज्यादा आकर्षक बनाएं जो कि देखते हि लोगो को पसंद आए

 

 खिलौने की दुकान का डिजाइन

 दुकान का डिज़ाइन आपकी सफलता की कुंजी हो सकती है।  अपने स्टोर मैं  ग्राहकों को प्रोडक्ट ख़रीददारी करने के लिए बड़ा स्थान दें सकते हो।  सब प्रोडक्ट को ऐसा रखे जहा रखोगे वह ओ चीज आसानी से उपलब्ध हो।  

 

इसे रीटेल स्टोर को ऐसा लुक दें सकते हो। जो आपके brand के नाम है ओ ब्रांड का नाम का बैनर दुकान के सामने लगा दें।  इंटीरियर को अच्छी तरह से  पेंट कर दें। 

अछे दिखने वाले विषम रंगों का यूज़ की जिये, यदि आपको आवश्यक हो तो एक चित्रकार बुलाकर डिज़ाइन कर सकते हो अपने दुकान को डैशिंग बनाये अपने दूकान मैं दीवार पर brand का नाम नहीं तो उत्पादकों का भी चित्र लगा सकते हो। दुकान को अछि तरह से रोशन करे और अछि तरह से हर एक कोने को रोशन करें।

 

 विपणन योजना

 

 यह कोनसे भी व्यवसाय को चलाने का सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है।  एक नई दुकान के लिए कम स्टॉक खरीदना कभी भी आछा होता है।   यदि आपकी दुकान अच्छी तरह चलती है, तो अपने दुकान के स्टोर रूम को ज्यादा प्रोडक्ट से भरे, यदि ज्यादा डिमांड हो तो ओर जितना आपको संभव हो।

 

 Toys store  के लिए एक भव्य उदघाटन का आयोजन कर सकते हो  हर बिलिंग पर अपने ग्राहकों को सुनिश्चित एक गिफ्ट दे सकते हो इसतरह आप मर्केटिंग भी कर सकते हो।

 

 आप उन उत्पादों के ऑर्डर लें सकते हो। जो आपकी दुकान में उपलब्ध नहीं हैं और उन्हें ग्राहक के पते पर मुफ्त में पहुंचाएं। नए ग्राहकों बनाने के लिए लोगो को छूट मूल्य निर्धारित करके दे सकते हो।

 

 नए उत्पादों पर विशेष कॉम्बो products भी दे सकते हो। 

 

 अपनी वेबसाइट बनाएं इसके द्वारा और वहां उत्पाद बेचे, मुफ्त मैं पैकिंग कर सकते हो और ओ प्रोडक्ट उसे घर मे दे सकते हों।

 

 अपने दुकान के लिए किराए पर कर्मचारी

 

 सभी काम अपने दम पर करना थोड़ा ज्यादा  बोझ है, लेकिन अंत में, लाभ तो सभी आपका ही होगा।  काम बाटकर करना हमेशा कभी भी बेहतर हो सकता है।  अपने दुकान के लिए एक या दो स्टाफ सदस्यों आपके काम के लिए किराए पर लें।

आपको कर्मचारी आसानी से उपलब्ध हो सकते है क्योंकि कई फ्रेशर्स होगे जो कि  नौकरियों के लिए तलाश मैं होते है।  जब आपका व्यवसाय अच्छे से बढ़ता है, तो आपको बिक्री के लिए स्टाफ, ओर  इन्वेंट्री मैनेजर, एकाउंटेंट, आदि की आवश्यकता हो सकती है।

 

खिलौना स्टोर के लिए इन्वेस्टमेंट

 

 आज के मार्केट में अच्छी खिलौना की दुकान स्टार्ट करने के लिए ज्यादातर निवेश 1,50,000 से 2,50,000 INR है।  यह आपका शुरुआती खर्च या इन्वेस्ट हो सकता है।  ये एक हमने अनुमान लगाया है।  मूल्य उस जगह अनुसार अलग-अलग हो सकती है। जिस ब्रैंड पर आप व्यवसाय शुरू कर रहे हैं। उस पर भी डिफेंड होता है।

 

 खिलौना स्टोर के लिए लागत

 

 हमने एक खिलौना की स्टोर के व्यवसाय को शुरवात करने में जो सभी  शुरवाती खर्चों के साथ आपको दिखनी की पूरी कोशिश की है।  यहां बताई गई सभी कीमतें अन्दाज के हिसाब से दिखाई गई हैं, और वास्तविक थोड़ा ऊपर नीचे कीमतें अलग-अलग हो सकती है।  यहाँ नीचे दी गई सूची है।

 

 पारम्भिक खर्चा – 60,000 INR

 

 आपके स्टोर के लिए यह एक बार का निवेश है और ये भी रिफंडेबल भी हो सकता है।  आपको आपके दुकान के लिए भूमि पंजीकरण के साथ कुछ कानूनी कागज़ात पर हस्ताक्षर करने की आवश्यकता होगी।  यदि आपके पास बातचीत करने का आछा कौशल है, तो आप बड़ी हुई राशि को कम करके हिसाब मैं बातचीत कर सकते हो।

 

 खिलोने का दुकान का मासिक किराया – 15,000 INR

 

    यह वह राशि है जिसे आप हर महीने आपके दुकान का  किराए के रूप में देना पड़ता है। क्षेत्रो के अनुसार आपके  खिलोने का दुकान का मासिक किराया। अलग – अलग हो सकता है।

 

खिलोने के दुकान के लिए बिजली का बिल – 2500 INR

 

आपके खिलोने के दुकान के लिए बिजली मैं, पंखे, लाइट, कंप्यूटर सिस्टम और अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरण चलाने की बिजली को आपको भुगतान करना पड़ सकता है।

 

 खिलोने के दुकान के लिए प्रोडक्ट खरीदी करना होगा।

 

 जो कि आपके दुकान के लिए यह एक आपकी पहली ख़रीददारी है।  आपके दुकान के लिए ज्यादा मांगों वाली सभी उत्पादों को आप खरीदी करें। आपके डिस्ट्रीब्यूटर से  महंगे उत्पादों की कम मात्रा मैं खरीदी कर सकते हो। आपके स्टोर के लिए प्रोडक्ट खरीदी में बुद्धिमान बनें। 

महंगी खरीदी बहुत ज्यादा मत खरीदी करना है;  यह आपको बिक्री करने मे मुसीबत में डाल सकता है।  महंगे उत्पादों के ऑर्डर लें और उन्हें बाद में ग्राहकों से आर्डर के अनुसार महंगे उत्पादन ले सकते हो।

 

एक सिम्पल सा कंप्यूटर, प्रिंटर और बिलिंग मशीन खरीदना जरूरी है – 40,000 INR

 

 यह फिर से एक बार आपको  निवेश करना होगा। आपके दुकान मैं  हर किसी को अब एक कंप्यूटर की जरूरत है।  यह अपने दुकान का बिल, डेटा और आपकी वेबसाइट को मैनेजमेंट करने को आपकी मदद कर सकता है। आपके बिलिंग का  बिल प्रिंट करने के लिए एक आछा प्रिंटर खरीदे। एक डॉट-मैट्रिक्स प्रिंटर आपका बिलिंग का आवश्यक काम करने के लिए पर्याप्त होगा।

 

 दुकान के लिए फर्नीचर – 20,000 INR

 

  स्टोर के लिए आछा और लंबे जीवन के लिए उत्तम  गुणवत्ता वाले फर्नीचर खरीदे।  यदि आप अपनी अलमारियों को डिज़ाइन करना चाहते हैं, तो आप कर सकते हो आप फायबर, स्टील, ओर लकड़ी का भी फर्नीचर खरीदी कर सकते हो। तब आपको  अधिक धन की आवश्यकता होगी।

 

 एक वेबसाइट बना सकते हो – 5,000 INR

 

आप अपने वेबपृष्ठों को डिज़ाइन करने के लिए। आप एक फ्रीलांसर को किराए पर लेकर अपनी वेबसाइट डेवलोपमेन्ट कर सकते हो।  एक अच्छा वेबसाइट डिज़ाइन तैयार करने के लिए पेशेवर को किराए पर लेना आपको अधिक महँगा पड़ जाएगा। आप  फ्रीलांसर को काम  देने से पहले, हम आपको उसके पिछले काम की जाँच करने की सलाह देते है। अपने वेबसाइट के पृष्ठों को आछा ओर रंगीन और संवादात्मक बना सकते हो।

 

 आपके दुकान के कर्मचारियों का वेतन – 9,000 INR

 

 हम आपको आपके दुकान के लिए पहले कुछ महीनों के लिए एक अच्छा  स्टाफ रखने की सलाह देते है। एक बार आपका व्यवसाय फैलने पर आप अधिक किराए पर ले कर्मचारियों ले सकते हैं।

 

 आपके Store का इन्वेस्टमेंट पर लाभ कितना हो सकता है।

 

 ROI ( Return on investment ) का मतलब होता है रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट्स होता है। यह आपके दुकान लाभ भी कह सकते है। 

 

 इसकी गणना इस सूत्र द्वारा आसानी से की जा सकती है।

 

 रिटर्न ऑन इन्वेस्टमेंट्स = (कुल आय *-निवेश *) / निवेश* INR में सभी आंकड़े

 

 शुरुआती कुछ  दिनों या महीनों के लिए, आपका ROI थोड़ा कम होगा- 20% -30% हो सकता है। लेकिन बाद में, बिक्री की दर में वृद्धि के अनुसार ROI का स्कोर बढ़ जाएगा।

 

 निष्कर्ष 

 

 भारत मे एक खिलौनों की दुकान का कारोबार एक बड़ी सफलता हो सकती है।  आपके दुकान के लिए शुरुआती समय परेशानी भरा हो सकता है, लेकिन बाद में यह बिज़नेस स्टोर आछा हो जाएगा।

 

  आपको  खिलोनो की बदलती मांगों और नए उत्पाद लॉन्च को आपको टच मैं रहना चाहिए है।  बाद में, यदि आपका व्यवसाय अच्छा चलता है, तो आप अपने ही शहर में एक और दूसरा दुकान खोल सकते हो।  हमें उम्मीद है कि आपको यह मार्गदर्शन किया गया इन्फॉर्मेशन अछि लगी हो।  हमें ज़रूर नीचे दिये गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से अपनी राय ओर सुझाव जरूर दे। और अधिक आपको नए व्यापारिक विचार खोजने के लिए हमारी वेबसाइट से जुड़े रहें जो की आप कम निवेश के साथ अपना नया बिज़नेस शुरू किया जा सकता है ।

खिलौने का बिजनेस कैसे स्टार्ट करें

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *